गर्लफ्रेंड की चुदाई पांच लड़कों से करवाई

गर्लफ्रेंड की चुदाई पांच लड़कों से करवाई

मै पंकज शर्मा हूं. मैं मुंबई में रहता हूँ. गर्लफ्रेंड की चुदाई देखने की चाहत मुझे भी बहुत सारे पाठकों के ईमेल आये. मेरी गर्लफ्रेंड शनाया की ग्रुप चुदाई कहानी सबसे ज्यादा पसंद की गई.

ईमेल में भेजे गए मैसेज में कई लोगों ने शनाया को किस करने की इच्छा भी जताई. आपको बता दें कि शनाया भी उस ईमेल को पढ़ती थीं। तो धीरे-धीरे शनाया भी सोचने लगी कि उसे अनजान लोगों को किस करना चाहिए। फिर हम दोनों को उन सभी पाठकों के साथ कुछ ऐसी ही योजना बनाने का विचार आया, जिन्हें चुदाई के लिए ईमेल मिल रहे हैं।

इन लोगों में से एक वह जोड़ा था जिसने अदला-बदली का प्रस्ताव रखा था। कुछ लोगों ने इच्छा जताई कि वो शनाया को मेरे साथ चोदना चाहते हैं. पिछली कहानियों में हम बता चुके हैं कि शनाया को ग्रुप चुदाई का बहुत अच्छा अनुभव था. अब हमने अलग-अलग तरीके से चुम्बन का आनंद लिया। जब मैंने शनाया से इस बारे में पूछा तो उसने अनजान लोगों से शादी करने की इच्छा जताई. मुझे उसका GF सेक्स प्लान भी पसंद आया.

दिल्ली की भाभी बंगाली से चुदी

वो तीन लोगों के साथ ग्रुप चुदाई कर चुकी थी तो अब आगे बढ़ने का समय था तो हमने पांच लोगों के साथ ग्रुप चुदाई का प्लान बनाया. इसलिए हमने उन सभी मेलों पर बात करना शुरू कर दिया जो हमारे पास आ रहे थे। फिर मैंने सोचा कि जिनके साथ मेरी पटती है, उनके साथ चुदाई का प्लान बनाऊं. दिल्ली के अभिषेक और नोएडा के अंकित की शादी तय हुई। इसके लिए जयपुर से यश और सूरत से विनीत को बुलाया गया था.

इस योजना के लिए हमने एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया। फिर उस ग्रुप के जरिए लोगों का एक-दूसरे से परिचय कराया गया. शादी का दिन तय हो गया. शनाया अब पांच लोगों से किस करने वाली थी जो पहली बार होने वाला था. ये पांच लोग थे मैं, अभिषेक, अंकित, यश और विनीत. शनाया एक ग्रुप के लोगों की शादी का बेसब्री से इंतजार कर रही थी। तय दिन पर सभी लोग अपने-अपने शहर से जयपुर आये और हमने सभी को अपने फ्लैट पर आमंत्रित किया. शनाया और मैंने सभी का स्वागत किया। दिन के दौरान, हर कोई एक-दूसरे के साथ मिल रहा था।

हमने सबको जयपुर में थोड़ा घुमाया भी। फिर शाम को खाना खाकर वो फ्लैट पर आये. अब मैंने शनाया को तैयार रहने को कहा. वह शयनकक्ष में चली गयी. मैं बाकी सब चीज़ों के बारे में बात कर रहा था। मैंने उनसे पूछा कि क्या उनके पास कोई प्रश्न या झिझक है। सभी ने मुझसे पूछा कि मैं अपनी गर्लफ्रेंड को उनसे क्यों मिला रहा हूं। मैंने उससे कहा कि शनाया और मैं सेक्स का पूरा आनंद लेना चाहते हैं और हर तरह का सेक्स चाहते हैं।

फिर मैंने बाकी सभी से पूछा- अब क्या शुरू करें? सभी सहमत हुए. फिर हम पांचों बेडरूम में चले गये. शनाया ने बेडरूम में हमारी तरफ देखा और मुस्कुरा दी। मैंने सबको शुरू होने का इशारा किया. सबसे पहले मैं शनाया के पास गया और उसे किस करने लगा. मुझे देख कर बाकी सब लोग करीब आ गये. फिर अभिषेक ने शनाया को मेरे ऊपर से हटाया और उसके होंठों को चूसने लगा. शनाया भी उनका पूरा साथ दे रही थीं. इधर अंकित ने शनाया का टॉप उठाया और ब्रा के ऊपर से ही शनाया के दूध मसलने लगा. यश ने शनाया की जींस उतार दी और पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत को सहलाया.

विनीत पीछे से शनाया की गांड दबा रहा था. मैं शनाया को चार लोगों के बीच बहस करते हुए देख रहा था। यह बहुत ही रोमांचक दृश्य था! फिर उन सबने मिलकर शनाया को पूरी नंगी कर दिया. हर कोई शनाया के नंगे बदन को घूर रहा था. उसके बाद हम सभी ने अपने कपड़े उतार दिए और चड्डी में मेरी नंगी गर्लफ्रेंड के सामने खड़े हो गए. शनाया समझ गई कि अब उसे सबका लंड चूसना है. वो घुटनों के बल बैठ गयी और एक एक करके सबकी चड्डी उतार दी. चड्डी नीचे आते ही सबके लंड शनाया के सामने तन गये. वह एक एक करके सबके लन्ड हिलाने और सहलाने लगी।

दिल्ली की भाभी बंगाली से चुदी

फिर वो अभिषेक का लंड अपने मुँह में लेकर चूसने लगी. उसके एक एक हाथ में अंकित और विनीत का लंड था. यश और मैं शनाया के शरीर पर अपना लंड रगड़ रहे थे। अंकित के बाद उसने बारी बारी से सबका लंड चूसा. जब उसने एक एक करके सबके लंड चूसे तो हमने उसके मुँह में एक साथ दो लंड डालने की कोशिश की. सबसे पहले यश और मैंने अपना लंड शनाया के मुँह में डाला. बड़ी मुश्किल से दो लंड सेट हुए लेकिन शनाया अच्छे से चूस नहीं पा रही थी. फिर हमने शनाया को उठाया और बिस्तर पर लिटा दिया। सबने बारी बारी से शनाया की चूत चाटी.

शनाया इतने लोगों से अपनी चूत चटवा कर पागल हो रही थी. अब शनाया अपनी चूत ऊपर उठाकर इशारा करने लगी कि उसकी चूत को अब एक लंड की जरूरत है. सबसे पहले अभिषेक ने अपना लंड शनाया की चूत पर सैट किया; फिर उसने धीरे धीरे धक्के लगाना शुरू कर दिया. अभिषेक का लंड शनाया की चूत में घुस चुका था. फिर एक जोरदार झटके के साथ पूरा लंड शनाया की चूत में घुस गया. शनाया ने जोर से आह भरी.. लेकिन उसे ग्रुप चुदाई का अनुभव था, इसलिए उसने धक्के बर्दाश्त कर लिए।

अंकित ने पीछे से शनाया की गांड में अपना लंड सैट कर दिया. उसने शनाया की गांड के छेद पर थोड़ा सा तेल लगाया और एक ही झटके में लंड उसकी चूत में डाल दिया. शनाया गांड में लंड का झटका बर्दाश्त नहीं कर पाई और चिल्ला पड़ी- आईई ईई … मैं मर गई!
वो ज्यादा चिल्लाये नहीं इसलिए यश ने अपना लंड उसके मुँह में चुसा दिया। अब शनाया को तीनों तरफ से धोखा मिल रहा था. हर कोई उसे ज़ोर से चोद रहा था और चूम रहा था। मेरा और विनीत का लंड अभी भी शनाया के छेद से वंचित था. लेकिन शनाया मेरा और अंकित का लंड हाथ में लेकर सहला रही थी. वो एक साथ पांच पांच लंड संभाल रही थी.

कुछ देर किस करने के बाद अभिषेक ने शनाया की चूत में माल निकाल दिया. अभिषेक जोर-जोर से हांफ रहा था. अब शनाया की चूत और गांड दोनों वीर्य से भर गई थीं. शनाया की चूत और गांड से वीर्य निकलने लगा। अभिषेक उसकी चूत से निकलते वीर्य को मलने लगा और पूरे वीर्य से उसकी चूत को सहलाने लगा.

अंकित ने वैसा ही किया. ये देख यश झट से शनाया के मुंह को चूमने लगा. उसके मुँह से गूँज…अरे हाँ… की आवाज आई। शनाया का शरीर पूरी तरह से पसीने से भीग गया था और ऐसे में वह और भी ज्यादा प्यारी लग रही थीं. इसी बीच यश का शरीर कांपने लगा और उसने अपना माल शनाया के मुंह में निकाल दिया. अब बारी थी पोजीशन बदलने की. विनीत ने शनाया की चूत में लंड डाला और मैंने उसकी गांड में.

भाभी की सेक्सी हरकत के चंगुल में फंस गया

हम दोनों शनाया के दोनों छेदों को चाटने लगे। शनाया की चूत और गांड की चुदाई का ये दूसरा राउंड था. वो फिर से चुम्बन का सदमा सहने लगी. इधर अभिषेक और यश ने अपना लंड उसके हाथ में दे दिया जिसे वो मुठाने लगी. अभिषेक और यश के मुँह से चीखें निकलने लगीं. शनाया मस्ती में लंड हिला रही थी. उधर अंकित ने अपना लंड उसके मुँह में डाल दिया.

शनाया के पास एक बार फिर पांच लंड थे, जिन्हें वह खुश करने के लिए पूरे दिल से समर्थन कर रही थी। 15 मिनट की जबरदस्त किसिंग के बाद शनाया की चूत ने पानी फेंक दिया. पच पच की आवाज के साथ चुदाई में इतना मजा आने लगा कि विनीत और मैं एक साथ उसकी चूत और गांड में झड़ गए. उसी समय अंकित ने भी उसके मुँह में पानी छोड़ दिया. अब सब लोग थक चुके थे और शनाया भी काफी थकी हुई लग रही थी तो हमने ब्रेक लेने के बारे में सोचा. लगभग आधे घंटे तक सभी ने आराम किया।

चुदाई के तीसरे दौर के लिए ताकत जुटाने के लिए हमने हल्का खाना भी खाया। तीसरा राउंड शुरू होने से पहले फिर से पोजीशन बदलने का फैसला किया गया. हर कोई तैयार था. इस बार यश ने शनाया की चूत में और विनीत ने उसकी गांड में लंड सैट किया.
मैंने अपना माल शनाया के मुंह में डाल दिया। अभिषेक और अंकित ने अपना लंड उसके हाथ में दे दिया. शनाया इस बार सबके वीर्य की बारिश में भीगना चाहती थी. तो यह निर्णय लिया गया कि सभी लोग शनाया के शरीर पर वीर्य की वर्षा करेंगे। चुदाई का तीसरा दौर शुरू हो गया.

एक बार फिर मेरी सेक्सी गर्लफ्रेंड शनाया को रिजेक्ट किया जाने लगा. उसकी चूत और गांड में जबरदस्त चुम्बन होने लगा. हालाँकि, उसकी चूत और गांड अब तक लाल हो गई थी और थोड़ी सूज गई थी। फिर भी शनाया लंड के आनंद में डूबी हुई जोरदार तरीके से किस में उसका साथ दे रही थी. धीरे धीरे सबके धक्के तेज़ होने लगे. शनाया पांचों लंड के झटकों का मजा ले रही थी. चलते-चलते उसे आधे घंटे से ज्यादा हो गया था। अब वो पूरी तरह से कांप रही थी. ऐसा लग रहा था मानो उसके शरीर से ज्वालामुखी फूटने वाला है।

इधर हम सभी स्खलन के करीब थे तो एक-एक करके सभी ने अपना लंड बाहर निकाल लिया। शनाया को उठाकर घुटनों के बल बैठाया गया. ऐसा लग रहा था जैसे वह एक मोटी कुतिया थी और चोदू मर्दों के बीच फंस गया था। हम सबने उसे चारों तरफ से घेर लिया. उसने अपना मुंह खोला और हमारे माल निकलने का इंतजार करने लगी. हम सभी अपने लंड उसके मुँह के आसपास घुमा रहे थे। कुछ ही देर बाद मेरे लंड से वीर्य फूट पड़ा. मुझे देख कर अंकित का भी लावा फूट पड़ा. फिर विनीत, अभिषेक और यश भी एक साथ झड़ने लगे. शनाया हर तरफ से वीर्य की बूंदों को सोखने लगी.

देखते ही देखते उसका पूरा शरीर वीर्य से लथपथ हो गया. पांच मर्दों का वीर्य उसके शरीर पर बहकर उसे भिगो चुका था. वीर्य से नहा कर वो बिस्तर पर गिर पड़ी. हम भी जहां थे वहीं गिर पड़े. उसके बाद रात को हम सबने थोड़ा आराम किया और शनाया को चोदा. जीएफ सेक्स में पूरी रात शनाया किस करती रहीं. उसका शरीर टूट गया था और हमारा भी। अगले दिन किसी की उठने की हिम्मत नहीं हुई. लेकिन जब बाकी लोगों को जाना था तो सब लोग उठकर नहाने के लिए तैयार हो गये. तैयार होने के बाद उन चारों ने शनाया को गले लगाया और इस किस के लिए शुक्रिया कहा.

385 Views