मेरी पहली सुहागरात पड़ोस वाली भाभी के साथ

मेरी पहली सुहागरात पड़ोस वाली भाभी के साथ

मैं राकेशर हूं और पंजाब से हूं. मेरी उम्र 32 साल है और मैं दिखने में एकदम गोरा हूँ. मेरी हाइट भी बहुत अच्छी है, मेरी हाइट 6 फीट इंच है. जब मैं लम्बा हूँ तो मेरा लिंग भी लम्बा है, मेरा लिंग 10 इंच लम्बा और 4 इंच मोटा है। पिछले 2 महीने पहले तक मैंने अपने जीवन में कभी सेक्स नहीं किया था। मैं अब पार्ट टाइम जॉब करता हूँ जहाँ बहुत सारी लड़कियाँ होती हैं लेकिन पता नहीं क्यों? मुझे एक भी नहीं मिला. मैं देसी सेक्स कहानियों का बहुत बड़ा प्रशंसक हूँ और मुझे कहानियाँ पढ़ना बहुत पसंद है। लेकिन मेरे साथ ऐसा कभी नहीं हुआ था कि मैं किसी को बता सकूं और अब जब ऐसा हुआ है तो मैं इसे लोगों के सामने रख रहा हूं.’ चलिए दोस्तों, अब मैं आपको बताता हूं कि मैंने अपनी वर्जिनिटी कैसे तोड़ी और वो भी अपनी पड़ोसन भाभी के साथ.

यह घटना आज से 2 महीने पहले की है, उस समय ठंड का मौसम चल रहा था और मैं रोज सुबह 10 बजे अपनी नौकरी के लिए घर से निकल जाता था. हमारे घर के बगल में एक घर है जो ज़्यादातर किराये पर चलता है और उस घर का मालिक विदेश में रहता है इसलिए उसके घर में केवल किरायेदार ही रहते हैं। काफी समय से वहां पर कोई नहीं था लेकिन उस दिन जब मैं सुबह अपने ऑफिस के लिए निकल रहा था तो मैंने देखा कि वहां पर एक परिवार रहने के लिए आ रहा था। मैंने भी सोचा कि शायद कोई ऐसा सामान्य परिवार होगा जिसमें कोई मेरे काम नहीं आएगा.

Hindi Vasna

आया सावन झूम के चोद गया मेरी गांड रे, यही सोचते हुए मैं फिर से अपने ऑफिस के लिए निकल गया। फिर जब मैं शाम 5 बजे वहाँ से आया तो देखा कि एक मस्त भाभी अन्दर जा रही थी, मैं तो उसे देखता ही रह गया। क्या मस्त भाभी थी, 34 के दूध के आकार की गांड थी. इतना लाजवाब माल देख कर हर किसी का लंड खड़ा हो जायेगा. वह बहुत सुन्दर रानी थी। फिर में अपने घर आ गया और फिर सोचने लगा कि हुस्न की मलिका कौन है? फिर मैंने माँ से पूछा कि क्या यहाँ कोई रहने आया है? तो मम्मी ने कहा हाँ आ गए हैं बहुत सीधे लोग हैं तो मैंने कहा ठीक है!!!! ठीक है | फिर मैं अपने कमरे में चला गया और टीवी देखने लगा, तभी थोड़ी देर बाद मुझे दरवाज़े की घंटी सुनाई दी, मैं तुरंत नीचे देखने गया कि कौन आया है, मेरी माँ बर्तन साफ़ कर रही थी, इस वजह से उन्हें दरवाज़े की घंटी की आवाज़ नहीं सुनाई दी, इसलिए मुझे नीचे जाना पड़ा था। |

मैंने दरवाज़ा खोला तो देखा कि वही भाभी आई थीं तो मैंने उन्हें नमस्ते कहा और कहा- हाँ! तो वो बोली कि बेटा क्या मुझे थोड़ी सी चीनी मिलेगी? मेरे घर पर कुछ रिश्तेदार आए हैं और हम आज ही यहां शिफ्ट हुए हैं इसलिए कुछ चीजें नहीं ला पाए हैं. तो मैंने कहा कि कोई बात नहीं फिर मैंने उसे चीनी दी और वो चली गयी. फिर इस तरह धीरे-धीरे हम एक-दूसरे से बहुत अच्छे से परिचित हो गये और वो हर रोज हमारे घर आती थी. दरअसल उनके पति दिल्ली में नौकरी करते थे इसलिए वो वहीं दिल्ली में रहती थीं और उनके कोई बच्चा नहीं था इसलिए भाभी अकेली रहती थीं.

फिर ऐसे ही कुछ दिन बीत गये और तब तक मैंने कभी उनको चोदने के बारे में नहीं सोचा था, लेकिन एक दिन रविवार को में छत पर टहल रहा था. भाभी नहा कर ऊपर कपड़े सुखाने आई थीं और नीले रंग का गाउन पहना हुआ था, कसम से क्या मस्त लग रही थीं। भीगे गीले बाल और इतने गजब लग रहे थे कि क्या बताऊं. फिर मैंने भाभी को फोन किया और पूछा कि क्या भाभी नहा ली है तो उन्होंने हां कहा. फिर मैंने उनसे कहा कि भाभी अगर आपको कोई काम हो तो बता दो, में कर दूँगा. भाभी बोलीं- अच्छा बेटा, घर आ जाओ, खाना बनाने में मदद करो.

मैंने कहा रुको मैं आता हूँ फिर मैं भाभी के घर गया तो उन्होंने कहा थोड़ी देर रुको मैं अभी आती हूँ | मैंने कहा ठीक है, फिर भाभी अंदर वाले कमरे में चली गयी और दरवाज़ा बंद करना भूल गयी तो मैंने सोचा चलो देखता हूँ भाभी क्या कर रही है. मैंने थोड़ा सा दरवाजा खोला और देखा कि भाभी पूरी नंगी थी और ब्रा पहन रही थी. मैं अपना लंड सहलाने लगा, इतने में मेरा फ़ोन बजा और भाभी मेरी तरफ घूमी तो मुझे उनकी चूत दिखाई दी.

वो मुझे देखकर चौंक गयी और झट से अपना गाउन उठाकर अपने बदन को छुपाने लगी, तभी मैं भी तेज़ी से दौड़कर आया और सोफे पर बैठ गया. तभी भाभी गुस्से से बाहर आ गई और मुझसे बोली कि तुम यह क्या कर रहे थे? तो मैंने कहा कि भाभी मुझसे गलती हो गई, मुझे आपको कपड़े पहने हुए नहीं देखना चाहिए था, लेकिन क्या करूं भाभी, मुझसे रहा नहीं गया और मुझसे ऐसी गलती हो गई, प्लीज मुझे माफ कर दो। . तो भाभी बोलीं- देखो, मैं ये बात किसी को नहीं बताऊंगी, लेकिन तुम यहां से चले जाओ और मुझसे बात मत करना. यह सुन कर मैं मुँह लटका कर जाने लगा.

फिर मैं घर आया और छत पर चला गया और अपनी गलती पर शर्मिंदा न होते हुए छत पर बैठ गया और मुठ मारने लगा. मुझे नहीं पता था कि भाभी छत पर होंगी, वो छुप छुप कर मेरी तरफ देखने लगीं. और मैं मर रहा था. तभी अचानक से वो बोली कि अब तो तुम ऐसा करने लगे हो. तो मैंने कहा कि भाभी जब मैंने आपको इस तरह नंगा देखा तो मेरा मन हो गया कि मैं मर जाऊँ, मैं क्या करता? तो वो बोली कि तुम मेरे घर आ जाओ, अब में छत से उसके घर पर गया और उसने मुझे बैठाया और बोली कि सुनो यह काम की चीज़ है, तो मैंने कहा कि हाँ बोलो.

चुदक्कड़ बाबा की हिमायत से उसकी गांड फट गई, पहले तो वो शरमाई और फिर बोली कि मैं तुम्हारे साथ सेक्स करना चाहती हूँ, तो मैंने कहा कि अब ऐसा क्यों कह रही हो? फिर उसने कहा कि मेरे पति बाहर रहते हैं और मेरा मन करता है कि कोई मुझे चोद दे, लेकिन मेरी चूत प्यासी ही रह जाती है. तो तब मैंने उसके कंधे पर हाथ रखकर कहा कि भाभी आप ऐसे परेशान मत हो और उसने मेरे दिल पर अपना सर रखकर मुझे पकड़ लिया. मैं भी उनकी पीठ सहलाने लगा और बोला कि भाभी अब आपको उदास होने की जरूरत नहीं है, मैं आपकी मदद करूंगा.

Hindi Vasna

फिर उसने मेरे होठों पर अपने होंठ रख कर चूमना शुरू कर दिया और मैं भी उसे चूमने लगा और साथ में उसके दूध भी दबाने लगा और फिर हम दोनों 20 मिनट तक ऐसे ही एक दूसरे को चूमते रहे और चूमते-चूमते मैंने उसका गाउन उतार दिया और अब वह सिर्फ मैं थी मैं ब्रा और पैंटी में रह गई और उन्होंने मेरे कपड़े उतार दिए। मैं बस चड्डी में आ गया फिर मैं उसके दूध पीने लगा और वोआआहाआआ आआहहहा आहाहह्हा आहाहहा अब मुझे इतने दिनों बाद एक लंड मिलेगा | आहहाहाआ बहुत मजा आ रही है फिर उनके दूध चूसने के बाद मैंने उन्हें लेटाया और उनकी चूत चाटने लगा उनकी पेन्टी उतार के | उनके मुंह से सिस्कारिया निकल रही थी और वो अआहाहा आआआहाअह आहहहाआअ आआहा आआह्हहा आहाह्हहा अहा कर रही थी |

फिर उसने 10 मिनट तक मेरा लंड चूसा, मुझे बहुत मजा आ रहा था क्योंकि मेरा बड़ा लंड उसके मुँह में नहीं जा रहा था और वो अभी भी बड़े प्यार से मेरा लंड चूसने की कोशिश कर रही थी. फिर मैंने उसे लेटा दिया और अपना लंड उसकी चूत में पूरा डाल दिया. जिससे उसे बहुत मजा आ रहा था, मैं उसे जोर जोर से धक्के देकर चोदे जा रहा था और वो अहहाहः अहहाहः अहहाहः अहः अहहाहा चोदो मुझे अहहाहा अहहाहा क्या मस्त लंड है तुम्हारा. आहाहाहा आहाहाहा मुझे मजा आ रहा है अहहहहाह अहहहः आहा बड़े दिनों बाद मुझे लंड मिल रहा है अहहहहहह्हा अहहह्हा अहहाअहाआ आआअ बहुत अच्छी चुदाई करते हो तुम | और मैं बस उसे जोर जोर से चोदे जा रहा था | करीब आधे घंटे की चुदाई के बाद मैंने अपना वीर्य उसके मुंह में छोड़ दिया था और वो सारा सारा का माल पी गई थी |

513 Views