मौसी की गांड मारी किरायेदार अंकल ने

मेरी मौसी ने मुझे 20 साल की उम्र तक पाला है. जब मैं 7 साल का था मेरी 42 साल की खूबसूरत और सेक्सी मौसी दिखने में बहुत हॉट हैं. मेरी हॉट और सेक्सी मौसी के बड़े खरबूजे जैसे स्तन और उनकी गज़ब की उठी हुई गांड ने हमारे पड़ोस में रहने वाले हर आदमी को उनका दीवाना बना दिया है. ये तो कुछ नहीं बल्कि मेरे दोस्त भी मेरी मौसी के मदमस्त हुस्न के दीवाने हैं.

मेरे चाचा फ़ौज में हैं इसलिए वो कम ही घर आते हैं. उन्हें घर आने में कई महीने लग जाते है. घर में हम मौसी और बेटा ही रहते हैं। सब कुछ ठीक चल रहा था, एक दिन मेरे पड़ोस में रहने वाले गोपाल अंकल हमारे घर आए और बोले, बेटा, मेरे एक रिश्तेदार का ट्रांसफर तुम्हारे शहर में हो गया है, तो क्या तुम उसे अपने घर में एक कमरा किराए पर दे दोगे? कुछ दिन? क्या वहाँ अतिरिक्त जगह है? मेरी मौसी ने कहा हां कमरा खाली है ठीक है हम रख लेंगे.

करीब 10 दिन बाद हमारे घर में किरायेदार अंकल और आंटी रहने आये. किरायेदार आदमी का नाम कमलेश था जो 40 साल का था और किरायेदार आंटी का नाम कोमल था जिसकी उम्र करीब 38 साल थी. किरायेदार आंटी भी बहुत सुंदर और सेक्सी थी, उनका शरीर पतला था लेकिन उनके स्तन और गांड बहुत मोटी थी। किरायेदार अंकल बहुत होशियार थे, फिर आंटी ने उन दोनों को एक कमरा दे दिया, वे कुछ दिन हमारे साथ रहे, हम सब बहुत अच्छे थे, एक दिन अचानक मेरी रात को नींद खुली, मैं बाथरूम जाने लगा और अचानक मैंने देखा कि किरायेदार आंटी के कमरे में आंटी उनकी तरफ देख रही थीं। वो अपनी टाइट चूत को सहला रही थी. मैं हैरान हो गया और कुछ देर तक देखता रहा. आंटी के बाल खुले हुए थे और वो पसीने से लथपथ थी.

मौसी की गांड मारी किरायेदार अंकल ने

कुछ देर तक अपनी चूत को सहलाने के बाद मेरी सेक्सी मौसी बाथरूम में चली गईं. जैसे ही आंटी बाथरूम में गईं, मैं चुपके से किरायेदार आंटी के कमरे में देखने गया और दंग रह गया। दोनों किरायेदार अंकल-आंटी अगल-बगल नंगे लेटे हुए थे। आंटी की चूत गीली हो चुकी थी. मैं समझ गया कि मेरी मौसी उन दोनों की चुदाई देख रही थी और अब वह मुठ मारने के लिए बाथरूम में चली गई है। मैंने भी अपने कमरे में जाकर एक बार हस्तमैथुन किया. अगली सुबह मैंने नोटिस करना शुरू किया कि आंटी किरायेदार अंकल को अपनी ओर आकर्षित करने की कोशिश कर रही थीं.

फिर ऐसा ही चलता रहा, एक दिन किरायेदार आंटी किसी काम से अपने घर गयीं। किरायेदार अंकल घर पर थे. मेरे मन में मौसी और किरायेदार चाचा की मुलाकात चल रही थी. रात को अचानक लाइट चली गई। आंटी मेरे पास आईं और बोलीं- मेरे कमरे में लेट जाओ. जाओ, नहीं तो निमंत्रण ख़त्म हो जायेगा। मैं उनके कमरे में गया और बोला- आंटी, बेचारे किरायेदार अंकल गर्मी में होंगे, उनको भी बुला लूं.

आंटी ने कहा मुझे बुलाओ तो मैं किरायेदार अंकल को भी बीच में डबल बेड पर ले आया, मैं आंटी और किरायेदार अंकल अगल-बगल थे, देर रात मेरी आंख खुली तो देखा वो दोनों गहरी नींद में थे, मैं उठ कर पेशाब करने चला गया। लेकिन जब मैं वापस आया तो मैंने देखा कि किरायेदार अंकल करवट लेने के कारण आंटी के करीब चले गए, अब मैं करवट लेकर लेट गया और हल्की रोशनी में देखने के लिए अपनी गर्दन उठाने लगा। पहले तो मौसी दूसरी तरफ मुँह करके लेटी रहीं, फिर किरायेदार चाचा ने अपना एक हाथ उनकी कमर पर रख दिया और सहलाने लगे. मौसी करवट लेकर सीधी लेट गईं, तभी किरायेदार अंकल ने अपना हाथ उनके पेट पर रख दिया.

मौसी की गांड मारी किरायेदार अंकल ने

मेरी सेक्सी मॉल आंटी ने उससे कुछ नहीं कहा. किरायेदार चाचा की हिम्मत बढ़ गयी. उसने अपना एक हाथ उसके स्तनों पर रख दिया और उन्हें दबाने लगा। आंटी के मुँह से आह निकल गई. किरायेदार अंकल ने धीरे से अपना पायजामा उतार दिया और नेकर में थे। उन्होंने मुझे देखा। मुझे नींद आ गयी। नाटक करने लगा. फिर उसने आंटी की सलवार खोल दी और उनकी कसी हुई चूत में हाथ डाल दिया. आंटी किरायेदार अंकल से लिपट गईं और दोनों किस करने लगे. फिर किरायेदार अंकल तुरंत आंटी के ऊपर चढ़ गये. कुछ देर बाद उसने आंटी को धक्का देना शुरू कर दिया. चोदते चोदते आंटी चुदासी हो गयीं. माँ…आह..आह…मैं…आह…कर रही थी।

किरायेदार अंकल उसे पेल रहे थे, बिस्तर हिल रहा था, काफ़ी देर बाद किरायेदार अंकल झड़ गये, मैंने भी मुठ मारी और सो गया। अगली सुबह जब मैं उठा और देखा कि बिस्तर पर कोई नहीं है तो मैं बाहर आया और आंटी ने कहा- किरायेदार अंकल को चाय दे दो। मैंने कहा- किरायेदार अंकल ऑफिस नहीं गए हैं. उसने कहा नहीं मैंने उसे चाय दी है. आंटी बोली तू कॉलेज में है आ जा मैं समझ गया कुछ बात है. मैं कॉलेज गया लेकिन एक घंटे के भीतर वापस आ गया, गेटबेल बजाए बिना गेट कूद कर अंदर आ गया, मैंने पहले ही अपने बेडरूम की खिड़की का ताला हटा दिया था और वहां से अंदर घुस गया।

मैं धीरे से कमरे से बाहर आया तो देखा सामने सोफे पर किरायेदार अंकल बैठे थे. कुछ देर बाद आंटी आ गईं. उसने अपने सेक्सी बदन पर लाल साड़ी और काला ब्लाउज पहना हुआ था. मैं किरायेदार अंकल के साथ बैठ गया. मैं धीरे-धीरे आगे बढ़ा और उससे कुछ दूरी पर टेबल पर बैठ गया. मैं पीछे से देखने लगा तो मौसी और किरायेदार चाचा बातें कर रहे थे. किरायेदार अंकल बोले…दीदी आप बहुत अच्छी हो, मेरा कितना ख्याल रखती हो आंटी…मुस्कुराते हुए बोली, कल रात भी तो आपने मेरा ख्याल रखा. किरायेदार अंकल…बोले सॉरी दीदी, मुझे लगा कि यह मेरी पत्नी है, सॉरी…

आंटी बोलीं- भैया, आपने मेरी इज्जत लूट ली है और बोलीं- सॉरी, अब मैं क्या करूं किरायेदार अंकल.. आप जो सजा देना चाहो दे सकते हो, लेकिन पुलिस में शिकायत मत करना, मेरी जिंदगी खराब हो जाएगी. मौसी बोली- भाई ये तुम्हारी सज़ा है, प्लीज़ मुझे चोद कर मेरी चुदाई की प्यास बुझा दो। किरायेदार अंकल बोले- दीदी, सच बताओ, मैं बहुत दिनों से तुम्हें सरसों का तेल लगा कर चोदने का सपना देख रहा हूँ, अभी भी सरसों का तेल लग रहा है। मुझे तेरी गांड चोदने का बहुत मन कर रहा है.

मौसी की गांड मारी किरायेदार अंकल ने

मेरी सेक्सी आंटी बोली तो फिर देर मत करो भाई जल्दी से मेरी प्यासी चूत को चोद दो। मुझे अपने पति से चोदे हुए कई महीने हो गए हैं. किरायेदार अंकल ने आंटी को पकड़ लिया और चूमने लगे. मौसी पागलों की तरह एक दूसरे को नोचने लगीं. किरायेदार अंकल भूखी शेरनी की तरह किरायेदार अंकल को नोचने लगे. किरायेदार अंकल आंटी के ब्लाउज के ऊपर से उनके मम्मे दबाने लगे. आंटी आह…और जोर से दबाओ आह…किरायेदार. अंकल ने आंटी के ब्लाउज के हुक खोलने शुरू किये और ब्लाउज उतार दिया. आंटी ने खुद ही अपनी ब्रा खोल दी. उसके सफ़ेद स्तन बाहर आ गये। किरायेदार अंकल ने उसके बड़े बड़े काले निपल्स को अपने मुँह में ले लिया और पीने लगे.

मेरी सेक्स की प्यासी मौसी मदहोश हो गयी आह..तकिया..आह..काटो मत आह.. किरायेदार चाचा ने मौसी को खड़ा किया और उनका पेटीकोट नारा खोल दिया, पेटीकोट नीचे गिर गया किरायेदार चाचा ने मौसी की बालों वाली चड्डी नीचे खींच दी, चूत साफ़ दिखने लगी . किरायेदार अंकल ने उसे सोफ़े पर बैठाया, उसकी दोनों टाँगें खोलीं, उसकी कसी हुई चूत पर अपना मुँह रख दिया और उसकी चूत को चाटने लगे। मेरी नंगी मौसी छटपटाने लगी आह…आआ…..हाय रे अस्स्स्स्स्स्स आह मज़ा आ रहा है भाई…

दीदी की सहेली को शादी में चोदा

किरायेदार अंकल आंटी की टाइट बुर में अपना लंड डाल रहे थे. आंटी चिल्ला उठीं और बोलीं- आअहह, अब डालो अपना सख्त लंड. किरायेदार अंकल ने तुरंत अपना हथियार आंटी की तंग बुर में पेल दिया. आंटी आआह हउउउ की आवाजें निकालने लगीं. किरायेदार अंकल धक्को के साथ चोदने लगे. आंटी उई माँ, चोदो भाई, मज़ा आ रहा है, हा हाआ, और तेज़, आह आह, और तेज़, किरायेदार अंकल बोले, आह, क्या मस्त टाइट चूत है तेरी बहन की। मेरी नंगी मौसी चुदाई करवाते समय बोलीं- आह्ह और जोर से चोदो मुझे, भाई, आज मेरी इस प्यासी चूत की सारी प्यास बुझा दो, मेरे पति मेरे साथ नहीं रहते, कई महीने हो जाते हैं बिना चोदे।

मौसी की गांड मारी किरायेदार अंकल ने

करीब आधे घंटे की चुदाई के बाद किरायेदार अंकल बोले- दीदी, मैं झड़ने वाला हूं. आंटी निढाल हो गईं. किरायेदार अंकल ने अपना वीर्य उसकी टाइट चूत में डाल दिया और चुदाई ख़त्म करके वो दोनों सोफे पर गिर गये. मैं वहां से हट गया और अपने कमरे में चला गया और बाहर आकर कुछ देर के लिए घंटी बजाई. 10 मिनट बाद आंटी आईं. मैंने देखा कि उसके बादल खुले हुए थे और वह डरते हुए बोली, मैं आज जल्दी आ गयी। मैंने हां कहा और फिर मैं अंदर आ गया. मेरे कमरे में किरायेदार अंकल. फिर रात को आंटी ने मुझे और किरायेदार अंकल को खाना दिया. मैं कमरे में चला गया. किरायेदार अंकल और आंटी बात कर रहे थे.

फिर किरायेदार चाचा ने मेरी नंगी मौसी को अपने कमरे में जाने को कहा. मैं फिर उसी खिड़की के पास गया जहां से मौसी देख रही थीं. मैं देखने लगा. पहले किरायेदार चाचा ने मेरी मौसी को उसकी गांड को चोदने के लिए नग्न कर दिया और फिर उसने अपनी गांड पर सरसों का तेल लगाया। इसे लागू करना शुरू कर दिया ताकि गधे को चोदते समय कोई दर्द न हो और लिंग आराम से गधे से अंदर और बाहर चला जाए। मेरी नंगी मौसी अपनी गांड मरवाने से मना कर रही थी, शायद उन्होंने पहले कभी किसी से अपनी गांड नहीं मरवाई थी, लेकिन किरायेदार चाचा यहीं नहीं रुके, उन्हें तो मेरी शादीशुदा माँ की बहन की गांड में अपना लंड घुसाने की धुन सवार थी. था…

मेरी नग्न मौसी की गांड को चोदने के लिए, मैंने उसे दीवार के खिलाफ खड़ा कर दिया और अपने सख्त मुर्गा को उसकी गांड पर रखा और एक मजबूत धक्का दिया। तेल लगे होने के कारण सख्त लंड उनकी गांड के छेद में चला गया और आंटी जोर-जोर से ‘आह’ की आवाज करने लगीं। रुको, रुको भाई, मेरी गांड में बहुत दर्द हो रहा है, तुमने पहले ही मेरी टाइट चूत फाड़ दी है, अब मेरी गांड फट जाएगी, लेकिन किरायेदार अंकल उस रंडी की बात नहीं सुन रहे थे, उन्होंने उसे घोड़ी बना कर खड़ा कर दिया. दीवार और उसकी गांड चोदी. काम में लगा हुआ।

239 Views