साले की बीवी की चुदाई

साले की बीवी की चुदाई

हेलो दोस्तों, मेरा नाम गोलू है और मैं 24 साल का अच्छा दिखने वाला जवान लड़का हूँ। शुरू से ही किसी भी खूबसूरत लड़की को देखकर मेरा लंड खड़ा होने लगता है और मैं उसे देखकर बिल्कुल बेकाबू हो जाता हूं. साथ ही मेरा मन करता है कि उस लड़की को पकड़ कर उसके साथ सेक्स करूं और उसके मुलायम स्तनों को चोदने का मन करता है.

मुझे उसके गालों को चूमना चाहिए और उसके रसीले होठों को चूसना चाहिए और उसे अपनी बाहों में लेना चाहिए और उसके स्तन दबाना चाहिए और फिर उसकी चूत में अपना लंड डालना चाहिए और उसे चोदना चाहिए।

दोस्तों में जब भी किसी लड़की को देखता था तो उसके बारे में अपने मन में यह सब बातें सोचता था और उसे चोदने के विचार मेरे मन में आते थे, में बड़ी मुश्किल से समझाकर अपने मन को शांत करता था।

साले की बीवी की चुदाई

दोस्तों आज मैं आप सभी सेक्सी कहानियाँ पढ़कर आनंद लेने वाले लोगों को अपने जीवन की एक सच्ची घटना सुनाने आई हूँ जिसमें मैं आप सभी को बताऊँगी कि कैसे मैंने अपने ससुराल जाकर अपने जीजाजी को हॉट सेक्सी तरीके से आकर्षित किया पत्नी और उसे गड़बड़ कर दिया. इसका आनंद लिया और उसे खुश किया।

दोस्तो, वो शादी के दिन थे और उन्हीं दिनों मेरे तीसरे साले की शादी थी। उस वजह से मेरे ससुराल में भी शादी का माहौल था और इस वजह से हम सभी लोग मेरे ससुराल में इकट्ठे हुए थे और क्योंकि उस समय मेरे ससुराल में बहुत सारे लोग थे इसलिए वहां पर तैयारियां भी थी. एक-एक कमरे में बहुत-से लोगों के बैठने, उठने-बैठने और सोने के लिए सभी लोग अपनी-अपनी तैयारियों में बहुत व्यस्त थे।

दोस्तों वैसे तो मेरी नज़र मेरे साले की पत्नी पर बहुत पहले से थी, लेकिन अभी तक मुझे कोई भी अच्छा मौका नहीं मिला जिसका में फायदा उठा सकूँ और उसके साथ कुछ कर सकूँ. कभी-कभी हमारे बीच हंसी-मजाक भी हो जाता था, लेकिन हां, उसका व्यवहार शुरू से ही मेरे लिए अच्छा था, इसलिए कभी-कभी मैं हमारी बातचीत में डबल मीनिंग वाली बातें कहकर उसे चिढ़ाया करती थी और वह उन बातों का सही मतलब निकालता था। ये समझ कर वो हल्का सा मुस्कुरा देती और मैं भी खुश हो जाता.

साले की बीवी की चुदाई

दोस्तों मेरे पहले साले की पत्नी का नाम सरला था. उसका रंग गेहुँआ था, शरीर भरा हुआ था, उसके स्तनों का आकार 34 26 34 था, वह जवान और अल्हड़ थी और वह बहुत सुंदर, बहुत चंचल महिला थी। उसे देखकर मेरा मन हमेशा करता था कि सही मौका पकड़ लूं, उसे जबरदस्ती पकड़ लूं, चोद डालूं और उसकी जवानी चबा जाऊं और जब भी वो इठलाती हुई चलती थी तो मेरा मन करता था कि क्यों ना बस में उसकी गर्म कामुक चूत को चोदूं.

मैं उसी समय उसे पकड़ लेता और बहुत देर तक सहलाता रहता और वो बार-बार अपनी साड़ी से अपने सुंदर, गोरे, ठोस स्तनों को ढक लेती, लेकिन उसके वो बड़े बड़े स्तन अभी भी उसके अंदर से साफ दिखाई देते। ब्लाउज. हम एक दूसरे को देखते रहते थे और वो हमेशा मुझे अपनी झुकी हुई शरारती नजरों से देखती रहती थी और फिर कभी-कभी हल्का सा मुस्कुरा भी देती थी, जिससे मेरा लंड तुरंत खड़ा हो जाता था.

दोस्तों उस समय शाम के करीब 4 बजे थे और वो ठीक मेरे सामने खड़ी होकर कुछ काम कर रही थी, उसके साथ घर की कुछ औरतें भी थी और में लगातार उसे घूर घूरकर देख रहा था और फिर कुछ देर बाद वह हँसी और मुझसे बोली. पूछा क्यों जीजाजी, क्या चाहते हो? तुम बहुत देर से मुझे घूर रहे हो, क्या तुम मुझे खाने की योजना बना रहे हो?

साले की बीवी की चुदाई

और उसी समय अचानक मेरे मुहं से निकल गया कि आप, मेरे मुहं से वो जवाब सुनकर वो एकदम चकित हो गयी और मुझसे पूछने लगी कि आपने अभी क्या कहा? तो उसी वक्त मैंने उसे अपना जवाब बदलते हुए उससे कहा कि मेरा मतलब यह था कि मैं तुम्हारे हाथ की बनी एक कप चाय का आनंद लेना चाहता था, मैं यह बात तुमसे बहुत दिनों से कहने वाला था, लेकिन तुम ध्यान ही नहीं दे रहे हो. मुझे। देता है.

फिर वो मेरी उन सभी बातों का मतलब समझ गई और मुस्कुराते हुए बोली कि में तुम्हारे लिए कुछ भी कर सकती हूँ, इतना कहकर वो मेरे लिए चाय बनाने लगी और कुछ ही देर में वो मेरे लिए चाय लेकर आ गई. मैं बड़े प्यार से उस चाय को पीता रहा और फिर सही मौका देखकर मैंने उसकी चाय की तारीफ करना उचित समझा और मैंने वैसा ही किया.

मैंने उससे कहा कि तुम्हारे हाथों में जादू है तभी तो यह चाय इतनी स्वादिष्ट बनी है, शायद तुमने इसमें अपना सारा प्यार डालकर मुझे पिलाया है। फिर वो मेरे मुहं से इतनी तारीफ सुनकर बहुत खुश हो गयी और मेरी तरफ हंसते हुए वापस अपनी जगह पर चली गयी. तो अब मैं मन ही मन सोचने लगा कि मेरी तो हंसी छूट गई है तो अब मैं थोड़ी हिम्मत करके अपने मन की बात पूरी कर सकता हूं, इसके लिए मुझे ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ेगी.

साले की बीवी की चुदाई

यही सब बातें सोच कर मैं उसे चोदने के बारे में सोचने लगा. मुझे ऐसा इसलिए लग रहा था क्योंकि अब मुझे किसी भी तरह से उसकी चुदाई का मज़ा लेना था और मैंने इस बात का पूरा मन बना लिया था और फिर किसी तरह वो शाम भी गुज़र गई और उसके बाद वो रात आ गई जिसका में बहुत दिनों से इंतजार कर रहा था.

फिर एक कमरे में ऊपर बेड पर पुरुषों को सोने के लिए कहा गया और नीचे जमीन पर महिलाओं के लिए गद्दे बिछाए गए और अब आप सब मेरा हश्र देख रहे हैं. जिस बिस्तर पर मैं लेटा हुआ था उसके किनारे के ठीक नीचे फर्श पर सबसे निचला गद्दा था। सबसे पहले सरला का बिस्तर था और उसे अपने बगल में लेटा हुआ देखकर मुझे बहुत गुदगुदी हो रही थी और मेरा लंड उसके बारे में सोचकर बार-बार खड़ा हो रहा था।

साले की बीवी की चुदाई

अब मैंने मन में ठान लिया कि बेटा आज तुम्हें कोई भी अच्छा मौका नहीं छोड़ना चाहिए और अपनी तरफ से पहल करनी चाहिए और फिर मैंने सोचा कि एक बार तो में अपनी तरफ से कोशिश करूँगा और जो होगा देखा जाएगा. फिर मैंने उससे पूछा कि सरला तुमने मेरा यह तकिया बिस्तर के बीच में रखकर सबसे दूर क्यों रखा?

उसने पूछा कि रात को सोते समय तुम इतना करवट क्यों बदलते हो? और फिर वो हंसते हुए बहुत धीरे से बोली कि प्लीज रात को सोते समय मेरे ऊपर मत गिरना, नहीं तो में घुटकर मर जाउंगी. दोस्तों उसने मुझसे यह बात जिस तरह से कही वो ऐसी थी कि कोई बेवकूफ भी नहीं समझ सका और में उसका मतलब बहुत अच्छी तरह से समझ गया और मन ही मन बहुत खुश हुआ, मेरी ख़ुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा और फिर क्या?

Female Escorts in Delhi | Delhi Escorts Girls | Delhi Call Girls | Charming Model Girls in Delhi | Delhi Escorts Agency | Housewife Escorts in Delhi | Independent Escorts in Delhi | Escort Service in Delhi | Delhi Escort Service | Budget-Friendly Escort Service in Delhi | Escorts Girls For Night Service | Full Night Escorts Service | Celebrity Escort Service in Delhi | Independent Escort Service in Delhi | Sensual Call Girls Service in Delhi | Call Girl Agency in Delhi | High-Profile Escort in Delhi | Female Escorts Agency in Delhi | High-Profile Indian Escort in Delhi | Russian Escort Service in Delhi | Air Hostess Escort in Delhi | Russian Model Escort in Delhi

197 Views