सेक्सी रवीना की गांड मारी

मेरा खड़ा लंड सभी खुले और बंद छेदों को सलाम करता है! मेरा नाम आनंद है. मैं कई सालों से अन्तर्वासना की हिंदी सेक्स कहानियाँ पढ़ रहा हूँ। आज पहली बार मैं भी आपके सामने एक कहानी लेकर हाजिर हूँ.

बात उन दिनों की है जब मैं काम की तलाश में मुंबई गया था। वहां मेरा एक दोस्त था, मैं उसके कमरे पर ही रहता था. मैं पूरे दिन मुंबई में काम की तलाश में रहता था, लेकिन अभी तक मुझे कोई काम नहीं मिला था।

अंत में मैं हार मानने और घर वापस जाने के बारे में सोच रहा था लेकिन आज आखिरी दिन और अधिक काम ढूंढने के बारे में सोचा। सुबह खाना खाने के बाद वह काम ढूंढने निकला। शाम तक कोई काम नहीं मिला. फिर मैं थककर वापस कमरे में जा रहा था, तभी मैंने देखा कि एक लड़की मेरे सामने लेटी हुई कराह रही है.

मैं भागकर वहां गया तो देखा कि वो कोई और नहीं बल्कि मशहूर एक्ट्रेस रवीना टंडन थीं. उनकी कार एक पेड़ से टकरा गई, जिससे वह कार से बाहर गिर गईं और उनके पैर में मोच आ गई.

सेक्सी रवीना की गांड मारी

रवीना ने मुझसे कहा- तुम अपने फोन से एक नंबर पर कॉल करो.. मेरा फोन यहीं कहीं झाड़ियों में गिर गया है. मैंने कहा- पहले तुम खड़ी हो जाओ. मैंने उसे सहारा दिया और कार में बैठाया.

फिर मैंने कहा- मेरा फ़ोन चार्ज नहीं है, अगर आप कहें तो मैं आपको आपके घर तक पहुँचा सकता हूँ, मुझे ड्राइविंग आती है। कुछ देर सोचने के बाद रवीना ने कहा- ठीक है. अब हम निकल चुके थे. फिर उसने मुझसे मेरा नाम पूछा तो मैंने कहा- हां, मेरा नाम आनंद है. ‘हम्म..’

मैंने कहा- रवीना जी, मैं आपका बहुत बड़ा फैन हूं. कृपया मुझे एक ऑटोग्राफ दें. वो बोलीं- आपने मेरी मदद की है, मैं आपको ऑटोग्राफ जरूर दूंगी, इसके अलावा अगर आपको किसी चीज की जरूरत हो तो मुझे बताना.

मैं काम की तलाश में था और मैडम मुझसे कह रही थीं कि अगर कोई जरूरत हो तो बता देना, मैं चूतिये की तरह उनकी तरफ पलकें झपकाने लगा। फिर रवीना ने पूछा- क्या काम करते हो? मैंने कहा- मैं काम ढूंढ रहा हूं, लेकिन अभी तक नहीं मिला, इसलिए कल वापस गांव जा रहा हूं.

सेक्सी रवीना की गांड मारी

तो रवीना बोली- क्या तुम मेरे घर पर काम करोगे? मैंने कहा- मैं आपके क्या काम? तो रवीना ने कहा- क्या तुम मेरे ड्राइवर के तौर पर काम करोगे? वैसे भी आप गाड़ी बहुत अच्छी चलाते हैं. मेरे घर में नीचे का एक कमरा भी खाली है.

मैं बहुत खुश हो गया. अब तक हम उसके घर पहुंच गये थे. बाहर तैनात कुछ गार्ड उन्हें उनके कमरे में ले गए, मैं भी उनके साथ था. कुछ देर बाद सभी गार्ड भी चले गये. रवीना बिस्तर पर लेट गई और मुझसे बोली- चोट ज्यादा नहीं है.. तुम बस सामने जो दवाई पड़ी है उसे लगा लो।

मैंने उसे उठाया और खड़ा हो गया. फिर रवीना बोली- लगाओ! रवीना ने उस वक्त ब्लैक कलर की शॉर्ट ड्रेस पहनी हुई थी। जब उसने अपनी छोटी स्कर्ट ऊपर उठाई तो रवीना की गोरी टांगें और जांघें देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया.

रवीना बोली- लगाओ.. क्या देख रहे हो? मैंने कहा- रवीना जी, आपकी टांगें बहुत अच्छी हैं. रवीना ने ‘थैंक्स..’ कहा और बोली- अब क्या सिर्फ देखते ही रहोगे.. लगा दो! मैंने उसके पैरों को अपनी जाँघों पर रखा और धीरे से दवा लगाकर उसके पैरों की मालिश करने लगा।

सेक्सी रवीना की गांड मारी

हाय रे… क्या मुलायम और चिकने पैर थे… मेरा लिंग न केवल सख्त हो गया था बल्कि छूने से ही दर्द करने लगा था। मैंने कई बार रवीना के नाम पर हस्तमैथुन किया था. आज उसे अपने सामने देख कर मेरी हालत ख़राब हो रही थी. मैंने किसी तरह दवा लगाई. रवीना को अपने पैरों पर मेरा खड़ा लंड महसूस होने लगा था, जिससे उसे पता चल गया था.

रवीना ने मजाकिया लहजे में कहा- कैसा लग रहा है? मैंने शरमाते हुए कहा- बहुत मजा आ रहा है. फिर वो खुल कर बोली- तुम्हारा लंड मुझे चुभ रहा है. मैं उसके साहसिक शब्दों से पूरी तरह से स्तब्ध रह गया। मैंने कहा- सॉरी मैडम.. रवीना बोली- कोई बात नहीं.. चलो आज अपनी इच्छा पूरी कर लो।

वो उठी और आगे बढ़ी और मेरा लंड बाहर निकाल लिया और बोली- वाह.. कितना बड़ा लंड है तुम्हारा..! उसने बैठ कर मेरा खड़ा और रिसता हुआ लिंग अपने मुँह में ले लिया। रवीना के मुँह में लंड जाते ही मैं सातवें आसमान पर उड़ने लगा. रवीना टंडन के मुँह में मेरा लंड… ये सोच कर ही मैं उत्तेजित हो रहा था.

सेक्सी रवीना की गांड मारी

उसके चूसने से मैं जल्दी ही झड़ गया.. और वो मेरा सारा रस पी गई। फिर मैंने रवीना को बिस्तर पर लेटा दिया और अपने सारे कपड़े उतार दिए. फिर मैंने आगे बढ़ कर रवीना के कपड़े उतार दिए और उसे सिर्फ ब्रा और पैंटी पहना दी.

अब मैं रवीना के होंठों को चूसने लगा और साथ ही उसके उठे हुए मम्मों को भी दबाने लगा। हाय… क्या मुलायम स्तन थे! फिर मैंने उसकी ब्रा भी उतार दी और उसके रसीले मम्मों को दबाते हुए पीने लगा.. आह्ह.. क्या बदन था रवीना का, समझो चाटने के लिए ही बना है।

रवीना भी कामुक हो गई थी और कामुक सिसकारियां ‘आह आह..’ कर रही थी. अब मैंने रवीना को उल्टा कर दिया और उसकी गांड दबाने लगा. मैं रवीना की गांड का बहुत बड़ा फैन हूँ. अब मैंने उसकी छोटी सी पैंटी भी उतार दी.

रवीना की गोरी, चिकनी और बड़ी गांड मेरे सामने नंगी हो गयी. मैं पागलों की तरह उसकी गांड चाट रहा था और दबा रहा था। अत्यधिक उत्तेजना में मैं उसकी गांड के छेद पर जीभ फिराते हुए उसकी गांड चाटने लगा.

सेक्सी रवीना की गांड मारी

रवीना कराह उठी और बोली- और जोर से.. पूरा चाट जाओ..! मैं और ज़ोर से उसकी गांड में अपनी जीभ अन्दर-बाहर करने लगा। फिर मैंने उसे सीधा किया और देखा कि रवीना की चिकनी गुलाबी और पाव रोटी जैसी चूत मेरे सामने थी, मैं पागल हो रहा था। मैंने उसकी चूत को चूमा और उसकी टाँगें फैला दीं।

अब मैंने अपना पूरा मुँह चूत पर रख दिया और चूत को चाटने लगा। वाह.. क्या स्वाद था उसकी रसीली चूत का! अब तक रवीना तड़प चुकी थी, बोली- प्लीज़ मुझे अब और इंतज़ार मत करवाओ। लेकिन मैं चूत चाटता रहा.. वो ‘आह आह.. आ आ आ.. उम्म्ह… अहह… हय… याह… आउच माँ मर गई..’ जैसी कामुक आवाजें निकालने लगी।

फिर रवीना बोली- अब देर मत करो.. तुम तो मेरी चूत फाड़ दोगे! मैंने फिर से उसके स्तनों को मसलना शुरू कर दिया और ऊपर की ओर जाते हुए मैंने अपना लिंग रवीना के मुँह में डाल दिया, वह लिंग को आइसक्रीम की तरह चाटने और चूसने लगी। अब मैंने कहा- रवीना मैं तुम्हारी गांड चोदना चाहता हूं.

सेक्सी रवीना की गांड मारी

वो शरारती अंदाज में बोलीं- सब मार डालो मेरे राजा.. सब सामने आ गया है. यह सुनते ही मैंने रवीना को उल्टा कर दिया और कुतिया पोजीशन में होने को कहा, तो वह उछल कर कुतिया बन गयी. अब रवीना की मोटी रसीली चिकनी गांड मेरे सामने थी.. मैंने फिर से गांड को पूरा चाटा और गांड के छेद पर थूक लगा कर उंगली अन्दर डाल कर लंड के लिए जगह बना दी.

रवीना ने कामुक कराहते हुए कहा- जल्दी से मेरी गांड फाड़ दो.. मैं जोश में आ गया, अब मैंने लंड का सुपारा उसकी गांड के छेद पर रखा और एक ही झटके में पूरा लंड उसकी गांड में डाल दिया और सरसराहट की आवाज के साथ अन्दर चला गया.

सेक्सी रवीना की गांड मारी

रवीना जोर से चिल्लाई- आआ.. धीरे चोदो.. मैंने उसकी चीख को अनसुना कर दिया और धक्के लगाने लगा। आह… क्या अद्भुत आनन्द था… ऐसा लग रहा था मानो मेरा लिंग किसी गर्म भट्टी में डाल दिया गया हो। अब रवीना भी अपनी गांड उछाल-उछाल कर चुदवा रही थी.

चोदने के साथ-साथ मैं उसकी गोरी गांड पर जोर जोर से थप्पड़ भी मार रहा था. गांड पर थपकी की आवाज मुझे और भी उत्तेजित कर रही थी. कुछ मिनट तक मैं रवीना की गांड चोदता रहा.. फिर मैंने अपना सारा वीर्य उसकी गांड में छोड़ दिया। अब रवीना ने लंड को रूमाल से पोंछा, चूसा और फिर से खड़ा कर दिया.

फिर मैंने काफी देर तक रवीना की चूत चोदी और रवीना को मुझे चोदने के लिए ‘थैंक यू..’ कहा. रवीना बोली- आज मुझे सच में सेक्स का मजा आया, मेरे पति बाहर रहते हैं और उनका लिंग भी छोटा है. आज से तुम मेरी प्यास बुझाओगे.

169 Views